स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2019

Notes4Exam

स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 के तहत कुल 70 श्रेणियों में पुरस्कार दिए गये. सबसे स्वच्छ शहर के साथ ही स्टार रैकिंग और ज़ीरो वेस्ट मैनेजमेंट का पुरस्कार भी इंदौर को मिला

स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार-2019

इंदौर को जहां भारत का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया वहीं भोपाल सबसे स्वच्छ राजधानी चुनी गई. • इसके अलावा 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में अहमदाबाद और पांच लाख से कम आबादी वाले शहरों में उज्जैन पहले स्थान पर हैं. • दिल्ली छावनी को भारत की सबसे स्वच्छ छावनी चुना गया. • स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में भारत के शीर्ष 3 सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनकारी राज्यों में छत्तीसगढ़, झारखंड और महाराष्ट्र उभरे हैं. • दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) क्षेत्र को 'सबसे साफ छोटा शहर' का पुरस्कार दिया गया. • उत्तराखंड के गौचर को केंद्र सरकार के सर्वेक्षण में 'सर्वश्रेष्ठ गंगा टाउन' घोषित किया गया.

क्यों इंदौर लगातार तीसरे वर्ष पहले स्थान पर

1 क्यों की इंदौर पहला शहर है जहां ट्रेंचिंग ग्राउंड को पूरी तरह खत्म कर वहां नए प्रयोग शुरू किए हैं. 2 क्यों की इंदौर में कूड़ा उठाने वाले वाहनों की देख-रेख के लिए जीपीएस, कंट्रोल रूम और 19 जोन की व्यवस्था की गई है. 3 क्यों की यह देश का पहला शहर है जहां 100 प्रतिशत लोगों के घरों से कचरा उठाकर सही स्थान पर उसका निपटान किया जाता है. 4 इंदौर में 9 हजार से ज्यादा घरों में गीले कचरे से होम कम्पोस्टिंग का काम किया जा रहा है. 5 इंदौर पहला शहर है जहां लाखों लोगों की मौजूदगी के दो जीरो वेस्ट इवेंट आयोजित किये गये.

Page 0 of 0