Biology question answer

Notes4Exam

Notes4exam is best portal for General Awareness, Current Affairs, Biology question answer ,India gk in Hindi,Online GK Test, current affairs 2019, gk in Hindi for all competitive examinations in India.

भोजन में उपस्थित विषैले पदार्थों का विषहरण किया जाता है

आमाषय में

कषेरूकियों की सबसे बडी ग्रन्थि होती है

यकृत

आंत्र की सतह पर पाये जाने वाली लसीका गांठे कहलाती है

पेयर्स पैचेज

बू्रनर ग्रन्थियां पाई जाती है

ग्रहणी में

हाइड्रोक्लोरिक अम्ल ;भ्ब्सद्ध का स्रावण करने वाली कोषिकाएं होती है

आक्जिण्टिक कोषिकाएं

किस जन्तु में जिव्हा शरीर ताप नियन्त्रण में भाग लेती है

कुत्ता

कौन सा दांत पूरे जीवन काल में एक ही बार आता है

मोलर

जैकब्सन अंग का सम्बन्ध होता है

.गंध से

मनुष्य में अनुपस्थित लार ग्रन्थि होती है

इन्फ्राआॅरविटल ग्रन्थि

सबसे बडी लार ग्रन्थि होती है

.पैरोटिड ग्रन्थि

नव- डार्विनवाद के अनुसार कौनसा कारक जैव विकास के लिये उत्तरदायी हैं

उत्परिवर्तन व प्राकृतिक चरण

पिना को टीमपैनिक मेंब्रेन से जाने वाली रचना कहलाती है

बाहरी करण कुहर

पूर्ण विकसित बाहरी कर्ण लक्षण होता है

स्तनियों का

शरीर संतुलन से संबंधित संवेदांग होते हैं

अंतःकर्ण

मनुष्य में विटामिन ए की कमी से होने वाला रोग है

रतौंधी

नेत्रों के रेटीना में उपस्थित कोन्स सहायक होते हैं

तीव्र प्रकाश में देखने हेतु

रेडोप्सीन की कमी होने पर अधिक सेवन करना चाहिए

टमाटर

नेत्र में रेटिना भाग में उपस्थित न्यूरॉन्स होते हैं

द्विध्रुवीय

लेंस द्वारा फोकल अंतर को घटाने बढ़ाने की क्षमता कहलाती है

समायोजन

नेत्र में प्रतिबिंब बनने से पहले प्रकाश की किरणों का अपवर्तन होता है

चार बार

मनुष्य के लेंस का अपवर्तनांक होता है

1.42

जन्म के 4 महीने के बाद मानव शिशु के नेत्र में सक्रिय होने वाली ग्रंथियां है

लैक्राइमल ग्रंथि

रेटिना की रंगा स्तर में उपस्थित रोडस कि संख्या होती है

1150 लाख

मुर्गी की रेटिना उपस्थित रहती है

कोन्स

उल्लू की रेटिनामे उपस्थित रहती है

रोडस

कोर्निया के बाहर उपस्थित कंजक्टिवा की उद्भव होता है

एपीडमिर्स से

रात्रि के मंद प्रकाश में दृष्टि संवेदना का कार्य होता है

रोड्स द्वारा

नेत्रों में प्रकाश किरणों को नियंत्रित करने वाली रचना है

पुतली

नेत्र का तंत्रिका संवेदी स्तर कहलाता है

रेटीना

पुतली के व्यास में परिवर्तन की क्षमता होती है

1.5 से 9.0 मिमी

सिलीयरी कोय पर उपस्थित सिलीयरी प्रवर्धो की संख्या होती है

70 से 80

मनुष्य की नेत्रगोलक का माप होता है

2.5 मिमी

आंखों की पेशियों से संबंधित कपाल तंत्रिकाएं होती हैं

3,4,6

नेत्रों की बाहरी पेशियों में सलगन तंत्रिका होती हैं

प्रेरक प्रकार की

AC टाइल कोलीन का संश्लेषण करने वाला कोशिकीय अंगक होता है

माइटोकॉन्ड्रिया

मनुष्य में संवेदी एवं चालक न्यूरॉन में तंत्रिका आवेग की गति होती है

120 मीटर प्रति सेकंड

मध्य मस्तिक में पाई जाने वाली नलिका रूपी गुहा कहलाती है

इंटर

मस्तिष्क में भूख तथा तृप्ति के केंद्र पाए जाते हैं

हाइपोथैलेमस में


Page 4 of 4